नोटिस थमा कर नदारद रहे अधिकारी/ग्रामीणों का फूटा गुस्सा/नहीं देंगे एक इंच भी जमीन/जानिये कहाँ का है मामला…

0
271
,

🔴बुलाकर भी अनुपस्थित रहे अधिकारी…

🔴222 परिवार होंगे प्रभावित…

🔴पाँचवी अनुसूची में शामिल है यह गाँव…

🔴जल,जंगल,जमीन सहित प्राकृतिक संसाधनों पर है हमारा अधिकार :- बजरमुड़ा के ग्रामीण…

घरघोड़ा/रायगढ़।28 दिसम्बर 2920।घरघोड़ा एस डी एम कार्यालय में सुबह 11.00 बजे से मौजूद ग्राम बजरमुड़ा तहसील तमनार जिला रायगढ़ के ग्रामीणों ने शाम तीन बजे तक तो सब्र रखा लेकिन एस डी एम की अनुपस्थिति एवं किसी भी सक्षम अधिकारी के मौजूद न होने पर सब्र का बांध आखिरकार फूट ही पड़ा।प्रेस के समक्ष आक्रोशित ग्रामीणों ने बताया कि दिनाँक 24 दिसम्बर 2020 को ग्राम कोटवार के माध्यम से एस डी एम कार्यालय घरघोड़ा से जारी नोटिस दिनाँक 17 दिसम्बर 2020 की तामील की गई थी जिसमें उन्हें उनकी अचल संपत्तियों के प्रतिकर निर्धारण पर होने वाली आपत्ति दर्ज कराने 28 दिसम्बर 2020 को सुबह 11.00 बजे का समय दिया गया था।आज सुबह 11 बजे से ही ग्राम बजरमुड़ा के सैकड़ों ग्रामीणों ने घरघोड़ा एस डी एम कार्यालय में डेरा डाल दिया था लेकिन धरमजयगढ़ के अतिरिक्त प्रभार के चलते आज घरघोड़ा एसडीएम वहाँ प्रकरणों को निपटा रहे थे जिसके चलते घरघोड़ा कार्यालय में उनके अनुपस्थिति रहने एवं किसी भी अन्य सक्षम अधिकारी के न होने से ग्रामीणों की आपत्ति दर्ज नहीं की जा सकी।अपने अधिवक्ता के माध्यम से आपत्ति दर्ज कराने पहुंचे ग्रामीणों का स्पष्ट कहना है कि जल जंगल जमीन एवं प्राकृतिक संसाधन में समुदाय का सबसे पहला हक है प्रशासन और कंपनी मिलकर ग्रामीणों के खिलाफ अभियान की तरह काम कर रही हैं जिसका हम ग्रामीण कंपनी और प्रशासन का जमकर विरोध करेंगे और किसी भी कीमत में अपने गांव में कंपनी को नहीं आने देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here