इस मैनेजर का मिस मैनेजमेंट पड़ सकता है लोगों के स्वास्थ्य पर भारी…

0
115
,

खरसिया/रायगढ़।आदिम जाति सेवा सहकारी समिति खरसिया पं. क्र. 505 के प्रबंधक रामखिलावन राठौर के प्रबंधन की बानगी देखने योग्य है।एक ओर पूरा विश्व आज तक कोविड 19 अब उसके बाद उसके नए स्ट्रेन से आतंकित, भयभीत है वहीं कोविड 19 से बचने हेतु जारी एडवायजरी खरसिया के धान खरीदी केंद्र में सिर्फ़ बैनर, पोस्टर तक सीमित है।संलग्न सूचना फ़लक में पहली ही शर्त में यह साफ दिखाई दे रहा है कि कोविड 19 से बचाव हेतु पूर्णतया नियमों का पालन करते हुए ही इस वर्ष धान खरीदी की जाएगी।सैकड़ों की संख्या में कर्मचारी, किसान, श्रमिक इस केंद्र में रोज़ाना इकट्ठे हो रहे हैं लेकिन प्रबंधक महोदय महामारी से ग्रसित इस वर्ष को पिछले अन्य वर्षो की भांति सामान्य मानकर सहजता पूर्वक गतिविधियों के संचालन में व्यस्त हैं।इस ओर उनका ध्यान आकृष्ट करवाने पर चोरी ऊपर से सीनाजोरी वाला रवैया अपनाते हुए उन्होंने संवाददाता के सवालों के जवाब में 24 घंटे मास्क नहीं लगाए रख सकते जैसा कुतर्क प्रारंभ कर दिया। इन सबके अलावा धान तुलाई में प्रत्येक बोरी 40 किलो के मानक वजन से ऊपर 500 -700 ग्राम अधिक लिए जाने के प्रश्न पर उल्टा जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि जब किसानों को कोई परेशानी नहीं हो रही है तो आप क्यो इन बातों को उजागर कर रहे हैं।

http://https://youtu.be/O1ZT8-ehkUY

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here